Bharat Result

फरवरी 2024 में डीजल एवं पेट्रोल के किमत में 10 रू की कमी आ सकती हैं

फरवरी 2024 में डीजल एवं पेट्रोल के किमत में 10 रू की कमी आ सकती हैं

फरवरी 2024 में डीजल एवं पेट्रोल के किमत में 10 रू की कमी आ सकती हैंछ अगले माह फरवरी में पेट्रोल-डीजल के दाम में कटौती का ऐलान हो सकता है। सरकारी तेल विपणन कंपनियां इनके दाम पांच से 10 रुपये तक घटाने पर विचार कर रही हैं। इन कंपनियों को हुए मोटे मुनाफे को देखते हुए लोगों को राहत दी जा सकती है।

फरवरी 2024 में डीजल एवं पेट्रोल के किमत में 10 रू की कमी आ सकती हैं

मामले से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि तेल विपणन कंपनियों को वित्त वर्ष 2023-24 की पहली छमाही में तगड़ा मुनाफा हुआ है और यह दिसंबर 2023 तिमाही में 75 हजार करोड़ रुपये पहुंच सकता है। दूसरी तिमाही तक तीन कंपनियों का संयुक्त शुद्ध मुनाफा 57091 करोड़ रुपये था, जो वित्त वर्ष 2022-23 के 1137 करोड़ रुपये से 4917 प्रतिशत अधिक था। अधिकारियों ने संकेत दिए हैं कि तेल कंपनियों को 10 रुपये प्रति लीटर का प्रॉफिट मार्जिन हो सकता है, जो अब ग्राहकों को दिया जा सकता है।

कंपनियों पर कटौती का दबाव बढ़ रहा

प्रमुख सरकारी तेल कंपनियों की देश में बिकने वाले कुल पेट्रोल- डीजल की बाजार हिस्सेदारी करीब 90 फीसदी है। इन कंपनियों ने पिछले 18 महीनों से पेट्रोल-डीजल के दाम में लगभग कोई बदलाव नहीं किया है। अब इन पर कटौती का दबाव इसलिए भी बढ़ चुका है, क्योंकि वे जिस नुकसान की बात कर रही थीं, उसकी भरपाई हो चुकी है और मुनाफे में आ गई हैं।

See also  Bihar Board Inter Admission 2024-26: इस बार सरकारी स्कूलों में इंटर की सीटें फुल नहीं हो पाएंगी, जानें विस्तार से सभी जानकारी




चुनाव से पहले राहत संभव विशेषज्ञों का कहना है कि अस्थिर

भू-राजनीतिक परिदृश्य और तेल उत्पादकों देशों के कड़े रुख के बावजूद आने वाले समय में तेल की कीमतों में उछाल की उम्मीद नहीं है। वहीं, सरकार ने अगस्त में घरेलू एलपीजी की कीमत में कटौती के बाद अक्टूबर में भी छूट बढ़ाई थी इससे संकेत मिलता है कि सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती के खिलाफ नहीं है। अगले साल आम चुनाव से पहले तेल कंपनियां दाम घटा सकती हैं।

निचले स्तर पर कच्चा तेल

कच्चे तेल ने पिछले 13 महीने के रिकॉर्ड को तोड़ा था। जुलाई- सितंबर के दौरान कूड की कीमत में 30% का उछाल देखा गया। यह तेजी सऊदी अरब और रूस की तरफ से कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती के बाद आई थी।




अधिकारियों ने दिए संकेत

अधिकारियों का कहना है कि कंपनियां की तीसरी तिमाही के नतीजे जारी करने के बाद पेट्रोल और डीजल के दाम में कटौती करने पर विचार करेंगी। हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने घोषणा की है कि वह 27 जनवरी को अपने तीसरी तिमाही के नतीजे जारी करेगी। इसके अलावा इंडियन ऑयल कॉर्पोरोशन और भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के भी इसी दौरान रिजल्ट आने की उम्मीद है।

See also  SSC JE Exam 2023 Answer Key जारी हुआ SSC जूनियर इंजीनियर के फ़ाइनल आंसर की

फरवरी 2024 में डीजल एवं पेट्रोल के किमत में 10 रू की कमी आ सकती हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top