Bharat Result

एफ.पी.आई. का 10 महिने का निवेश उच्च स्तर पर पहुँचा

एफ.पी.आई. का 10 महिने का निवेश उच्च स्तर परः विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने जून में भारतीय इक्विटी में 47,148 करोड़ रुपये का निवेश किया है। यह राशि पिछले 10 महीने में सबसे अधिक है। विशेषज्ञों का कहना है कि जुलाई में निवेश कम हो सकता है, क्योंकि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की हालिया टिप्पणियों से एफपीआई सतर्क रुख अपना सकते हैं।

एफ.पी.आई. का 10 महिने का निवेश उच्च स्तर पर

विशेषज्ञ मान रहे हैं कि एफपीआई आगे चलकर थोड़ा सतर्क हो सकते हैं, क्योंकि देश में मूल्यांकन थोड़ा अधिक है। जून में एफपीआई ने भारतीय शेयरों में शुद्ध रूप से 47,148 करोड़ रुपये का निवेश किया

एफ.पी.आई. क्या हैं (What is FPI)?

Foreign Investment inflow is an important reason for India’s economic growth. So to simplify compliance requirements and have uniform guidelines for various categories of foreign investors like Foreign Institutional Investors (FIIs), Sub Accounts and Qualified Foreign Investors (QFIs) merged into a new investor class termed Foreign Portfolio Investors (FPIs).
As per SEBI notification dated January 7, 2014, regarding SEBI (Foreign Portfolio Investors) Regulations, 2014, Foreign Portfolio Investors Regime is commencing from June 1, 2014. Pursuant to the implementation of the Foreign Portfolio Investors (FPI) regime, SEBI has authorized NSDL to issue registration numbers and certificates to FPIs on behalf of SEBI along with monitoring of FPI Group investment and various data related to FPI activities to be displayed on NSDL web portal.



Leave a Comment